CAMPUS DIARIES WEB SERIES REVIEW

 CAMPUS DIARIES WEB SERIES REVIEW


NEW YEAR के NEW  पर MX PLAYER पर CAMPUS DIARIES नाम की एक NEW SERIES आई है। इंग्लिश कॉमेडी SERIES ओर से यूथ ओरिएंटेड कैसे हैं। इस कैंपस के भीतर के कुल 12 पर नहीं आने की 12 एपिसोड आइए बताते हैं का सेंटर पॉइंट है। अक्सर यूनिवर्सिटी जहां की दीवारें एक्स्ट्रा ब्राइट स्टूडेंटसेक्स अलाउड है। सुधीर हरियाणा से हरदा से विषय है कि गांव जाकर अपनी भैंसों का दूध निकालना पड़ेगा तो सुधीर कॉलेज पॉलिटिक्स में रहता है। सुधीर कैसे भी हो प्रेसिडेंट बनना चाहता है। 



सुष्मिता एकदम ब्लड ब्लड रिलेशनशिप से गुजर रही है। इनके मुंह में गाली और सिगरेट हमेशा पाई जाती है। अभिलाष सज्जन लड़का को पसंद करता है लेकिन उसके। टाइपिंग की वजह से होता है सृष्टि पढ़ाई में एकदम सिंसियर राघव सिंगापुर रिटर्न, लेकिन पता नहीं क्यों? अमेरिका कॉलेज स्टूडेंट हॉस्टल सेक्रेटरी का इलेक्शन लड़ रही है। पूरी SERIES इन के फिजिक्स के क्वेश्चन से लेकर रिलेशनशिप केमिस्ट्री पॉलिटिक्स की हिस्ट्री में होने वाली ढेर सारी बकलोली के इर्द-गिर्द घूमती है। इस SERIES के सबसे बड़े माइनस पॉइंट की बात करेंगे।


 अशोक का सबसे बड़ा माइनस पॉइंट है। सोचने से कुछ रिश्ते पे 10 मिनट और कुछ 40 से 55 मिनट के बीच के हैं। इस कारण शो की रिदम बरकरार नहीं रहती हो जाते हैं। हनी को सिर्फ चिंगम की तरह खींचा जा रहा है। अंतिम एपिसोड तक जैसे तैसे कॉफी पी पीकर हमारे साथी शुभम पहुंचे तो उनका मन हुआ कि शो के डर से ट्वीट करके अपने राइटर से कह देना बिना सोए सुरक्षित लास्ट एपिसोड तक पहुंच गया है। इसका दूसरा माइनस पॉइंट है। फ्रेशनेस की कमी हॉस्टल कॉलेज रोमांस अनेक शोध के बाद आई है। कॉलेज रोमांस तो सब इसमें पहले से ही देखा हुआ लगता है। एक शिकायत चौकी का सीन को लेकर भी है। 


 CAMPUS DIARIES WEB SERIES


मुख्य कलाकार है। वह तो अच्छा परफॉर्म करते हैं जिनके बारे में हम आगे बात भी करेंगे, लेकिन इनके अलावा एकदम फीकी पड़ती है। के कारण अच्छे वाले सीन कि भट्ट पढ़ते हुए भी आप इस शो में देखेंगे। टीवीएस का नहीं था बाद में जब इसकी क्रिएटिव राइटर का नाम पड़ा तब समझ आया कि आखिर ऐसा क्यों लिखा है? प्रेम मिस्त्री और अभिषेक यादव ने दोनों ही कोटा फैक्ट्री पवन एंड्रयू में जैसे टीवीएस के किचन से निकले सोच के पीछे के हेड चैफ रहे हैं। अभिषेक और प्रेम ने कॉलेज कैंटीन में चलने वाली गप्पू से लेकर एक तरफा तरफा तरफा मोहब्बत के समीकरणों तक सबको महीने टेल्स के साथ उतार दिया है। राइटिंग में आने वाले रेफरेंस मजेदार लगते हैं। SERIES में आपको गेम ऑफ थ्रोंस लेकर ब्रेकिंग बाद तक खूब सारे पॉप कल्चर रेफरेंस मिल जाएंगे। 


इन संवादों में गालियां भी तो के भाव से की गई है। खत्म हो गया गालियों का गुब्बारा मार दिया। इन एक्स्ट्रा गालियों से बचते तो शो दादा मजेदार हो सकता था। टेंपल्स को बहुत ही खूबसूरत ढंग से पेश किया है कि काश का सबसे पॉपुलर चेहरा है। हर्ष बेनीवाल जाने-माने अपने यूट्यूब चैनल कॉमेडी बनाते हैं। यहां भी उन्होंने मोस्टली अपने नाचूरल वाली कॉमेडी ही की है। बहुत ही कृषि हरियाणवी एक्शन के साथ। लेकिन कुछ इमोशनल सींस में उनका एक्टिंग रास्ता दिखता है। एकदम रिश्तेदार सुष्मिता के रोल में सलोनी खन्ना इंप्रेस करती हैं। उनके वह सीन जहां वह एकदम विवाह की से कॉलेज सर पर उठा लेते हैं। मजेदार लगते हैं। प्रेस करने के मामले में सलोनी से ज्यादा इंप्रेस किया। सानिया का किरदार निभा रहे हैं। इस सृष्टि जिंदगी में किसी लड़की के रोल को सृष्टि ने बारीकी से पकड़ा है।


 सानिया का किरदार को सृष्टि अपनी एक्टिंग से चीजों की तरह काबिलियत से मैनेज करती है। अभिलाष की भूमिका। तुरंत किरदार कई सालों से निभाते आ रहे हैं। एक जागरूक क्रांतिकारी किस्म की प्रियंका के रोल में सलोनी गौर भी अपना काम बखूबी करता है। राघव गुप्ता का रोल निभाने वाले अभिनव शर्मा का एक ड्रग एडिक्ट्स डोनर टीम बेसिक नुआंसेस अभिनव ने खूब पकड़े हैं। उनकी आंखें आवाज आपको संडे में डाल देंगे कि कहीं वह वाकई तो नशे में नहीं थे। क्या खूब सारा यू मजेदार रिफरेंस की पंच लाइन से जो आपको खूब है। शादी भी है। जरूरी आते हैं दूसरों का पेस और दशक के मनोरंजन का फ्लोर दोनों बाकी फैसला आपका। 


Post a Comment

0 Comments